Saturday, May 25, 2024
spot_img

अल्मोड़ा :एसएसजे परिसर के शिक्षा संकाय में हुआ 05 दिवसीय सामुदायिक कार्यशाला का आयोजन

अल्मोड़ा ::- एसएसजे परिसर के शिक्षा संकाय में 05 दिवसीय सामुदायिक कार्यशाला का आयोजन 21 मार्च से 25 मार्च तक किया जा रहा है। कार्यशाला का शुभारंभ विशिष्ट अतिथि प्रो.जीएस नयाल एवं संकायाध्यक्ष प्रोफेसर भीमा मनराल द्वारा मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यशाला का संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर सरोज जोशी तथा ललिता रावल द्वारा किया गया। कार्यशाला के प्रथम दिन में विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रो. जीएस नयाल व अथिति के रूप में विश्व विद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष पंकज कार्की व हर्षित दुर्गापाल मौजूद रहे। प्रो. भीमा मनराल द्वारा कार्यक्रम का उद्देश्य स्पष्ट करने के साथ-साथ विशिष्ट अतिथि का परिचय और शोध के क्षेत्र में उनके अतुलनीय योगदान का वर्णन किया गया।

प्रोफेसर जीएस नयाल ने अपने वक्तव्य में समाज एवं समुदाय के निर्माण और विकास में शिक्षक की अहम भूमिका को विस्तारपूर्वक बताया। शिक्षक की व्याख्या उन्होंने एक समाज निर्माता, राष्ट्र निर्माता और एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में करते हुए एमएड प्रशिक्षुओं को समुदाय के प्रति उनके कर्तव्यों से अवगत कराया। इसके पश्चात कार्यशाला के आगामी दिवसों में एमएड प्रशिक्षुओं द्वारा किए जाने वाले कार्यक्रमों के बारे में बताया, जिसमे विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक प्रतिभाग करने का निश्चय किया। कार्यशाला की समन्वयक असिस्टेंट प्रोफेसर सुश्री सरोज जोशी एवं असिस्टेंट प्रोफेसर ललिता रावल द्वारा आगामी दिवसों में समुदाय के साथ एवं मध्य किए जाने वाले कार्यक्रम जैसे सामाजिक जागरूकता के लिए समाज को दिए जाने वाले संदेश के रूप में नुक्कड़ नाटक की तैयारी के लिए दिशा निर्देश दिए गए।

बुधवार को साइबर सिक्योरिटी एंड क्राइम में प्रोफ़ेसर जेएस बिष्ट विषय विशेषज्ञ के रूप में उपस्थित थे। सत्र का प्रारंभ संकायाध्यक्ष प्रोफेसर भीमा मनराल द्वारा किया गया। उनके द्वारा विषय विशेषज्ञ प्रोफेसर बिष्ट का स्वागत बैज अलंकरण एवम मेमेंटो प्रदान कर किया गया।


जिसके पश्चात प्रोफेसर जे. एस. बिष्ट द्वारा साइबर अपराध पर अपना वक्तव्य दिया। उन्होंने बताया कि अपराध समाज और समुदाय का एक अभिन्न अंग हैै, मानव के जीवन का कोई भी अंग अपराध से अछूता नहीं है। उन्होंने एम.एड. प्रशिक्षुओं के मध्य साइबर जगत में हो रहे अपराधो को साझा किया और प्रशिक्षुओं के अनुभवों को जानते हुए , साइबर अपराधो के प्रति जागरूक किया।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे