Tuesday, March 5, 2024
spot_img

भीमताल : विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक! ललित मोहन आर्य ने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश दिये कि वित्तीय वर्ष समाप्ति से पूर्व बजट का शतप्रतिशत उपयोग कर लिया जाए

भीमताल/नैनीताल::- विशेष कार्याधिकारी कार्यक्रम क्रियान्वयन उत्तराखण्ड शासन ललित मोहन आर्य ने शुक्रवार को विकास भवन भीमताल में विभिन्न विभागों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में जनपद में सरकार द्वारा जनकल्याणकारी योजनाओं के साथ ही बजट ही उपलब्ध के साथ ही व्यय के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी विभागों द्वारा दी गई। आर्य ने बैठक में सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश दिये कि वित्तीय वर्ष समाप्ति से पूर्व बजट का शतप्रतिशत उपयोग कर लिया जाए।

समीक्षा के दौरान आर्य ने कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही जन विकास योजना वीरचंद गढ़वाली,दीनदयाल होमस्टे, समाज कल्याण विभाग, पेंशन योजना एवं अन्य चलाई जा रही योजनाओं के साथ ही कृषि विभाग द्वारा जनपद में चलाई जा रही मडुवा फसलों पर प्रोत्साहन जैविक, किसानों की आय दोगुना करना, मुख्यमंत्री कृषक योजना, राष्ट्रीय विकास योजना, बीमा फसल योजना, उद्यान विभाग द्वारा राष्ट्रीय बागवानी, फल पौधा रोपण एवं पशु विभाग आदि विभागों की योजनाओं समीक्षा बैठक ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसान फसल बीमा योजना के लिए अधिक से अधिक किसानों को जागरूक किया जाए ताकि फसल नुकसान होने पर कृषकों उनके फसल की समुचित भरपाई मिल सके।

पर्यटन विभाग द्वारा बताया गया कि कुमाऊ क्षेत्र के मुख्य मुक्तेश्वर में मंदिरों, भालू गाड़ में जल प्रभाव, जसुली देवी धर्मशाला निर्माण एवं भीमताल में काकर कोट मंदिर चोटी का सौन्दर्यीकरण किया जा रहा है। इन पर्यटन स्थलों का सौन्दर्यीकरण हो जाने से जहां पर्यटकों की आवागमन बढेगा वही क्षेत्रवासिंयो की आर्थिकी मजबूत के साथ स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

विशेष कार्याधिकारी श्री आर्य ने बैठक में सभी अधिकारियों से कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अन्तिम छोर तक के व्यक्ति तक पहुचे इसके लिए अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना होगा ताकि आम जनमानस को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक संख्या में मिल सके। उन्होंने कहा कि विकास कार्य कही पर किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न होती है तो उसे समय पर अपने उच्च अधिकारियों को अवगत कराये ताकि समस्या का समय पर निस्तारण किया जा सके।

बैठक में पीडीडीआरडीए अजय सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी गोपाल स्वरूप,सीएओ सीएस बिष्ट,वीडीओ एलडी आर्य,डीडीओ गोपाल गिरी,अपर अर्थसंख्याधिकारी डॉ.एमएस नेगी, अपर परियोजना निदेशक शिल्पी पंत के साथ ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे