Monday, February 6, 2023
spot_img

मानसखंड रोपवे के तहत होने वाले विकास कार्यों को लेकर मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू ने दिए ये महत्वपूर्ण निर्देश

नैनीताल – मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन डॉ.एसएस संधू ने मानसखण्ड कोरिडोर के तहत जनपदों में सड़क मार्गों, रोपे-वे एवं मंदिरों के विकास हेतु चरणबद्ध (फेजवाइज)रूप मे कार्यों की प्राथमिकता निर्धारित किए जाने एवं अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर आयुक्त कुमाऊं एव जिलाधिकारी नैनीताल, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, बागेश्वर, एव चंपावत के व सम्बन्धित विभागों के अथिकारियो के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक वीसी के माध्यम से ली। इस दौरान मुख्य सचिव को जनपदवार मानस खण्ड कोरिडोर के तहत प्रस्तावित पथम चरण मे विकसित किए जाने वाले सड़क मार्गों, रोपे-वे एवं मंदिरों को पीपीडी के माध्यम से विस्तृत रूप से जानकारी दी।
मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए देते हुए कहा कि जिन क्षेत्रों में मानसखण्ड कोरिडोर के तहत मंदिरों में कार्य किए जाने हैं उनका अच्छी तरह से संबंधित विभागो के अधिकारियों के साथ निरीक्षण कर मास्टर प्लान तैयार करें ले साथ ही यह भी सुनिश्चित कर ले की इन स्थानों पर सड़क पानी विद्युत पार्किंग शौचालय सफाई व्यवस्था एवं सभी मूलभूत सुविधाएं होनी चाहिए। मुख्य सचिव ने सभी डीएम को निर्देश दिये है कि सफाई की व्यवस्था हेतु लोकल आधार पर भी प्लानिंग करें। ताकि आने वाले समय पर अधिक से अधिक पर्यटकों आए और उन्हें बेहतर सुविधा मिले।
जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि जनपद में मानसखण्ड कोरिडोर के तहत 4 मंदिरों को जिसमें कैंची धाम मंदिर, गोल्जू मंदिर, नैनी देवी मंदिर एवं गर्जिया मंदिर प्रस्तावित है। एवं कैंची धाम मंदिर के लिए 3 किलोमीटर बाईपास एवं पार्किंग, गोल्जू मंदिर, घोड़ाखाल 3 किलोमीटर सड़क की वार्डनिंग एव पार्किंग की जरूरत है
इस अवसर पर नैनीताल से मण्डलायुक्त कुमाऊं दीपक रावत एवं हल्द्वानी से जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल एवं अन्य जनपदों के जिलाधिकारी एव संबिधत विभागो के अधिकारीगण बीसी के माध्यम से जुडे थे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे