Monday, February 6, 2023
spot_img

कनाडा की पार्लियामेंट में गूंजी कन्नड भाषा, भारतीय मूल के इस सांसद ने कन्नड़ भाषा में दिया भाषण, देखिए वीडियो

ऐसा कहा जाता हैं की इंसान चाहे जहां भी चले जाए उसे अपनी मातृभूमि और मातृ भाषा को कभी भूलना नहीं चाहिए, ऐसा ही एक उदाहरण कनाडा के संसद में देखने को मिला जब पहली बार कनाडा की संसद में भारतीय भाषा गूंजी और कनाडा की संसद में भारतीय मूल के सांसद चंद्र आर्य ने भाषण देने के लिए अपनी मातृभाषा कन्नड़ का सहारा लिया। इस दौरान संसद तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

जब कनाडा की संसद में गूंजी कन्नड़ भाषा
कर्नाटक में जन्मे कनाडा के सांसद चंद्र आर्य का कनाडाई संसद में कन्नड़ में बोलने का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।
वहीं सांसद चंद्र आर्य ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘यह पहली बार है जब भारत के बाहर दुनिया की किसी भी संसद में कन्नड बोली गई है’। कनाडा के लिबरल पार्टी के नेता चंद्र आर्य ने अपने भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा कि, ‘मैंने कनाडा की संसद में अपनी मातृभाषा (पहली भाषा) कन्नड में बात की थी। इस खूबसूरत भाषा का लंबा इतिहास है और लगभग 5 करोड़ लोग इस भाषा को बोलते हैं और यह पहली बार है जब कन्नड़ भारत के बाहर दुनिया की किसी भी संसद में बोली गई है’। चंद्र आर्य ने अपना भाषण कुवेम्पु की एक कविता के साथ समाप्त किया, जिसे डॉ.राजकुमार द्वारा एक गीत में गाया गया था।

कनाडियाई संसद में कन्नड़ में अपनी बात रखते सांसद चंद्र आर्या

कौन हैं सांसद चंद्र आर्य
चंद्र आर्य भारत के पूर्व वाणिज्यिक कर सहायक आयुक्त के. गोविंदा अय्यर के बेटे है।जिनका जन्म और पालन-पोषण कर्नाटक में हुआ था। उन्होंने बैंगलोर विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की और कर्नाटक विश्वविद्यालय से एमबीए किया। उन्होंने कतर जाने से पहले दिल्ली में डीआरडीओ और कर्नाटक राज्य वित्तीय निगम के लिए काम किया था। जिसके बाद वह कतर से कनाडा चले गए। वहां उन्होंने एक पूर्ण राजनीतिक करियर शुरू किया। चंद्र आर्य पहली बार 2015 में कनाडा की संसद के लिए और फिर 2019 में दूसरी बार नेपियन का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुने गए थे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे