Thursday, February 2, 2023
spot_img

Agneepath Scheme Recruitment 2022 : सेना में पहले से चल रहीं भर्ती प्रक्रियाएं बंद हो चुकी हैं। अब जवानों की भर्ती सिर्फ अग्निवीरों के जरिए होगी। यह जानकारी आज, 19 जून को रक्षा मंत्रालय की हाईलेवल मीटिंग के बाद डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस अफेयर्स के एडिशनल सेक्रेटरी, लेफ्टीनेंट जनरल अनिल पुरी ने दी। उन्होंने बताया कि सेना काफी समय से अधिक संख्या में नवयुवकों को सेना में भर्ती करने का विचार किया जा रहा है। लेकिन कोरोना काल में यह अवसर मिला है। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में अधिकांश सैनिक 30 वर्ष की आयु पार कर चुके हैं। सैन्य अफसरों को देर से कैडर मिल रहा है। इसी को देखते हुए यंग वर्कफोर्स की भर्ती की के लिए अग्निपथ योजना शुरू की गई है।

उन्होंने बताया कि विभिन्न मंत्रालयों द्वारा अर्धसैनिक बलों की भर्ती में जो 10 फीसदी के रिजर्वेशन का ऐलान किया गया है वह लोगों के विरोध-प्रदर्शन के कारण नहीं है। बल्कि पहले से ही योजना में ऐसा प्रावधान रखा गया है।

मीडिया की ओर से जब सवाल किया गया कि सेना में पहले से भर्ती प्रक्रिया चल रही है, कुछ युवाओं फिजिकल टेस्ट हो चुका है तो कुछ ने लिखित परीक्षा पास कर ली है। कुछ का मेडिकल भी हो चुका है। ऐसे में अब इन युवाओं को क्या होगा?

इसके जवाब में लेफ्टीनेंट जनरल पुरी ने बताया कि ऐसे युवाओं को अग्निवीर भर्ती के लिए फिर से अपनी योग्यता साबित करने का मौका मिलेगा। पिछले दो वर्षों में कोरोना के कारण भर्ती प्रक्रिया रुकी रही है, ऐसे में अब देखना होगा कितने लोग मेडिकली फिट हैं। योग्य जवानों की स्क्रीनिंग अब अग्निवीर भर्ती के जरिए की जाएगी।
उन्होंने यह भी बताया कि बाकी सैनिकों की तरह अग्निवीरों को सेना के दौरान मृत्यु होने पर उसके परिवार को एक करोड़ रुपए मिलेंगे। साथ यदि वह अपंग होता है तो 48 लाख रुपए मिलेंगे।

4 साल बाद अग्निवीर क्या करेंगे ?
इसके जवाब में रक्षा मंत्रालय की ओर पोस्टर जारी किया गया है। पोस्टर में निम्नलिखित सुविधाएं देने का ऐलान किया गया है-

– सीएपीएफ और असम राइफल्स में सिपाही भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा – गृह मंत्रालय
– कोस्ट गार्ड, व अन्य रक्षा इकाइयों में सिविलयन्स की भर्ती में 10 फीसदी का आरक्षण मिलेगा। साथ ही पहले बैच की अग्निवीरों की भर्ती में 5 से 5 वर्ष तक आयुसीमा में छूट भी मिलेगी। – रक्षा मंत्रालय
– नौसेना में रेटिंग सर्टिफिकेट मिलेगी।
– 12वीं पास अभ्यर्थियों को एनआईओएस से 12वीं पास का सर्टिफिकेट।
– ब्रिज कोर्स।
– एयर फोर्स में विभिन्न इकाइयों एटीसी, सैफ्टी, प्रशासन, आईटी, संचार, एससीएम, विमानों की रिपेयरिंग व देखभाल।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे