Monday, March 4, 2024
spot_img

प्रकृति प्रेमियों और पर्यटकों के लिए खुल गई विश्व धरोहर फूलों की घाटी।

प्रकृति प्रेमियों और आम पर्यटकों के लिए खुल गई उत्तराखंड के उच्च हिमालयी लोकपाल छेत्र में स्थित विश्व  प्राकृतिक धरोहर स्थल फूलों की घाटी फूलों के साथ साथ बर्फ और हिम खंडों के भी अद्भुत नजारे दिखने को मिलेंगे इस बार फूलों की घाटी में । फूलों की घाटी राष्ट्रीय पार्क के मुख्य गेट पर पार्क प्रबंधन द्वारा रेंज ऑफिसर गौरव नेगी की मौजूदगी में द्वार पूजन के बाद यात्रा मजिस्ट्रेट हेमकुंट साहिब राहुल शाह द्वारा रिबन काटकर आज से फूलों की घाटी यात्रा का शुभारंभ किया,इस अवसर पर पार्क प्रशासन द्वारा आज पहले दिन घाटी का दीदार करने पहुंचे पर्यटकों का स्वागत करते हुए उन्हें घाटी के बारे में ब्रीफ करते हुए मिष्ठान के साथ स्वागत सत्कार भी किया, आज पहले दिन दोपहर 3 बजे तक बड़े उत्साह से घाटी में 40 प्रकृति प्रेमी पर्यटक सभी औपचारिकताएं पूरी कर घाटी का दीदार करने पहुंचे, आज दूसरे दिन भी खराब मौसम के चलते सुबह पार्क का दीदार करने कम पर्यटक पहुंचे लेकिन पार्क ऑफिसियल की माने तो पर्यटकों की संख्या आने वाले दिनों में बढ़ने की पूरी संभावना है,पार्क ऑफिसियल भी इस अवसर पर घाटी का जायजा लेने पर्यटकों के साथ फूलों की घाटी रवाना हुए,
फूलों की घाटी राष्ट्रीय पार्क के पैदल  मार्ग पर  अभी भी जमी है बर्फ ।
विश्व धरोहर प्राकृतिक स्थल फूलों की घाटी  नेशनल पार्क आज एक जून से  पर्यटकों और प्रकृति प्रेमियों के लिए खुल गई है।नंदा देवी राष्ट्रीय पार्क के DFO भारत भूषण मार्तोलिया ने बताया  एक जून से  सैलानियों  के लिये खुली इस  फूलों की घाटी तक  पहुंचने के लिए नन्दा देवी पार्क प्रशासन ने वैली तक ट्रैक  को दुरुस्त कर आवाजाही के लिए खोल दिया है।
इस बार फूलों की घाटी, लोकपाल हेमकुंड क्षेत्र में बेमौसम काफी बर्फबारी हुई है घाटी में कई जगह कई किलोमीटर तक बर्फ साफ करने के बाद पार्क प्रशासन की तरफ से  फूलों की घाटी तक ट्रेक आवाजाही के लिए सुचारू कर दिया है। नंदा देवी राष्ट्रीय पार्क के  रैकी दल ने बताया कि फूलों की घाटी के निचले हिस्से में बर्फ पिघलने के बाद फूलों का खिलना शुरू हो  जाएगा।आपको बता दें कि फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान हर वर्ष एक जून से पर्यटकों के लिए खुल जाती है।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे