Wednesday, February 21, 2024
spot_img

यात्री के वेश में बदरीनाथ धाम आये अपराधी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

देहरादून: बदरीनाथ धाम की यात्रा में यात्रियों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है। यात्रियों की भीड़ के साथ अपराधी किस्म के लोग भी धाम में यात्रियों के वेश में पहुंच गए हैं। यूपी के बरेली से आए एक युवक को श्रद्धालुओं की जेब काटने व दुकान में चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। बताया गया कि आरोपित यहां के होटलों में ठहरता था तथा दर्शनों के लिए लाइन या तप्त कुंड में जाकर जेब पर हाथ साफ करता था।

बदरीनाथ धाम में दर्शनों के दौरान व तप्त कुंड के आसपास से पिछले कई दिनों से यात्रियों के कपड़ों से जब कटने सहित सामान गायब होने की शिकायतें प्राप्त हो रही थी। लेकिन यात्री पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराते थे। बीते दिनों बदरीनाथ धाम के तप्त कुंड के पास स्थित एक प्रसाद, माला की दुकान के गल्ले से अज्ञात चोर द्वारा 35 हजार रुपए नकद व अन्य कीमती सामान को चोरी किए जाने की शिकायत थाना बदरीनाथ में दर्ज कराई गई।

सादी वर्दी में तैनात रही पुलिस
पुलिस अधीक्षक प्रमेंद्र डोबाल ने धाम में आपराधिक घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए टीम गठित कर कार्रवाई को कहा। क्षेत्राधिकारी चमोली प्रमोद शाह ने मामले में कोतवाल कैलाश चंद्र भट्ट के साथ टीम के अन्य सदस्यों को यात्रियों की भीड़-भाड़ वाले स्थानों में सादी वर्दी में रहने को कहा। वहीं सीसीटीवी भी खंगाली गई। तो चोरी के मामले में एक संदिग्ध श्रद्धालु पुलिस की रडार पर आ गया।

बताया गया कि यह संदिग्ध कई बार दर्शनों को जाते देखा गया। पुलिस ने बदरीनाथ धाम से बामणी गांव की तरफ जाने वाले रास्ते पर सरकारी अस्पताल के पास उक्त संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ लिया। पूछताछ व तलाशी में आरोपित के कब्जे से चोरी की राशि व सामान बरामद हुआ। आरोपित ने अपना नाम राहुल श्रीवास्तव पुत्र सिद्धेश्वर श्रीवास्तव निवासी 155/156 ए वीर सावरकर नगर निकट डेलापीर चौक थाना-इज्जत नगर, जिला- बरेली उत्तर प्रदेश बताया।

आरोपित के पास से चोरी के 35000 हजार रुपयों के अलावा एक टेबलट, एक एप्पल कंपनी का मोबाइल फोन, एक इलेक्ट्रॉनिक घड़ी, दो चांदी के सिक्के व अन्य कीमती सामान व दस्तावेज बरामद हुआ। चोरी किए गए माल बरामदगी के आधार पर आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपाधीक्षक प्रमोद शाह ने बताया कि आरोपित यात्री के वेश में बदरीनाथ धाम में डेरा जमाए हुए था। बताया गया कि वह एक सप्ताह से भी अधिक समय से नगर के कई होटलों में रहा। वह मंदिर के आसपास व दर्शनों की लाइन में हाथ में प्रसाद रखकर घुलमिल जाता था और मौका देखकर चोरी की घटना को अंजाम देता था।

बताया गया कि आरोपित के साथ कुछ अन्य साथी भी बदरीनाथ में मौजूद थे। जिनकी गतिविधियों को पुलिस खंगाल रही है। पुलिस बाहरी लोगों की गतिविधियों पर नजर बनाकर उनका सत्यापन का काम भी कर रही है। पुलिस आरोपित के आपराधिक इतिहास को भी यूपी के बरेली से मांग रही है।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे