Sunday, December 10, 2023
spot_img

नैनीताल :इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय के 36वां दीक्षांत समारोह संपन्न

नैनीताल ::- इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय के 36वें दीक्षांत समारोह का आयोजन सोमवार को सभागार कक्ष, राजीव गांधी नवोदय विद्यालय, तपोवन, रायपुर रोड, देहरादून में किया गया। दीक्षांत समारोह इग्‍नू के मुख्‍यालय एवं क्षेत्रीय केन्‍द्रों पर एक साथ सम्‍पन्‍न हुआ। इग्‍नू मुख्‍यालय के कार्यक्रम का ऑनलाइन माध्‍यम से प्रसारण क्षेत्रीय केन्‍द्र पर भी देखा गया। मुख्‍यालय पर दीक्षांत समारोह की मुख्‍य अतिथि भारत की महामहिम राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मु थे।

इस अवसर पर क्षेत्रीय केन्‍द्र, देहरादून के मुख्‍य अतिथि माननीय डॉ. धनसिंह रावत, कैबिनेट मंत्री, उत्‍तराखण्‍ड सरकार थे। कार्यक्रम का प्रारंभ सरस्‍वती पूजन एवं द्वीप प्रज्‍ज्‍वलन से शुरू हुआ। इस अवसर पर मुख्‍य अतिथि के कर-कमलों द्वारा लगभग 150 उपाधिधारकों को उपाधि प्रदान की गई। उन्‍होंने कहा कि इग्‍नू दुनिया का सबसे बड़ा मुक्‍त विश्‍वविद्यालय है जो देश एवं विदेश में दूरस्‍थ शिक्षा के माध्‍यम से गुणवत्‍तापूण उच्‍च शिक्षा प्रदान कर रहा है।

उत्‍तराखण्‍ड में इग्‍नू के केन्‍द्र लगभग हर जिले में स्‍थित हैं जिनपर प्रत्‍येक वर्ष एक बड़ी संख्‍या में छात्र पंजीकृत होते हैं। विश्‍वविद्यालय के उत्‍कृष्‍ट कार्यों के लिए हालही में इसे नैक द्वारा A++ ग्रेड भी दिया गया है। इग्‍नू द्वारा कोविड-19 के बाद से ऑनलाइन माध्‍यम से शिक्षार्थियों तक उच्‍च शिक्षा को मुहैय्या कराया जा रहा है। इग्‍नू द्वारा बोधगयाना परियोजना तथा ई-विद्याभारती परियोजना के अंतर्गत अफ्रीकी तथा कैरिबियन देशों के शिक्षार्थियों को उच्‍च शिक्षा प्रदान की जा रही है। इग्‍नू क्षेत्रीय केन्‍द्र, देहरादून भी इन योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन माध्‍यम से विदेशी शिक्षार्थियों को शिक्षा प्रदान कर रहा है। प्रत्‍येक वर्ष इग्‍नू क्षेत्रीय केन्‍द्र देहरादून के लगभग 18 से 20 हजार विद्यार्थी प्रदेश के विभिन्‍न अध्‍ययन केन्‍द्रों पर पंजीकृत हो रहे हैं।

उन्‍होंने इस बात पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की कि इग्‍नू द्वारा प्रदेश के विभिन्‍न कौशल प्रशिक्षण संस्‍थानों जैसे आईटीआई, राष्‍ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्‍थान, जन शिक्षण संस्‍थान एवं प्रधानमंत्री कौशल विकास केन्‍द्रों पर भी अपने एक्‍सटेंशन सेंटर खोले गये हैं जिनपर शिक्षार्थी वोकेशनल स्‍टडीज में बैचलर डिग्री कार्यक्रम के साथ-साथ कौशल विकास में इग्‍नू के विभिन्‍न पाठ्यक्रमों में प्रवेश ले सकते हैं। उन्‍होंने नई शिक्षा नीति-2020 के तहत इग्‍नू एवं यूजीसी के तत्‍वाधान में विभिन्‍न विश्‍वविद्यालयों एवं कॉलेजों के प्राध्‍यापकों के लिए चलाये जा रहे विशेष ट्रेनिंग प्रोग्राम के बारे में इग्‍नू के प्रयास की प्रशंसा की। उन्‍होंने यह भी कहा कि इग्‍नू द्वारा नई शिक्षा नीति के तहत मल्‍टीपल ऐण्‍ट्री एवं एग्जिट , विभिन्‍न भाषाओं में कार्यक्रमों के संचालन, क्रेडिट बैंक, इग्‍नू के भारतीय भाषाओं में स्‍वयंप्रभा चैनल द्वारा काउंसिलिंग एवं शिक्षार्थियों को डिजी लॉकर के माध्‍यम से ऑनलाइन उपाधि प्रदान कराना एक सराहनीय कदम है। उन्‍होंने शिक्षार्थियों को इग्‍नू के विभिन्‍न क्षेत्रों में लाभप्रद एवं रोजगारपरक कार्यक्रमों में प्रवेश लेकर लाभ उठाने के लिए कहा। इसके साथ ही उन्‍होंने सभी उपाधिधारकों को अपने कर-कमलों से उपाधि प्रदान करते हुए उन्‍हें बधाई दी एवं संदेश दिया कि हमें जीवन के मूलभूत मूल्‍यों से दूर नहीं हटना चाहिए तथा हमेंशा सम्‍मान, स्‍वाभिमान, दोस्‍ती, सामाजिक खुशहाली एवं सामाजिक वातावरण के प्रति संवेदनशील होना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि आपका मूल उद्देश्‍य परिवार, मित्रों, समाज एवं देश की सेवा करना है। अंत में उन्‍होंने उच्‍च शिक्षा के क्षेत्र में विश्‍ववि्यालय की निरंतर प्रगति पर बधाई दी।

इस अवसर पर इग्‍नू क्षेत्रीय केन्‍द्र, देहरादून के वरिष्‍ठ क्षेत्रीय निदेशक डॉ. अनिल कुमार डिमरी ने अपनी प्रगति रिपोर्ट का संक्षेप में वर्णन करते हुए कहा कि मुझे इस बात को बताते हुए अत्‍यंत हर्ष हो रहा है कि इस दीक्षांत समारोह में इस क्षेत्रीय केन्‍द्र के 2794 शिक्षार्थियों को उपाधि प्रदान की जाएगी जिनमें 1415 स्‍नातक डिग्री कार्यक्रम, 952 स्‍नातकोत्‍तर डिग्री कार्यक्रम, 297 स्‍नातकोत्‍तर डिप्‍लोमा कार्यक्रम, 50 डिप्‍लोमा कार्यक्रम एवं 80 प्रमाणपत्र कार्यक्रम सम्‍मिलित हैं जो पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 5प्रतिशत अधिक है। इग्‍नू द्वारा जेल बंदियों को नि:शुल्‍क शिक्षा प्रदान की जा रही है एवं आकाशदीप एवं ज्ञानदीप परियोजनाओं के तहत देश के सशस्‍त्र एवं सुरक्षा बलों को उच्‍च शिक्षा प्रदान की जा रही है।

उन्‍होंने आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के लिए विशेष पाठ्यक्रम डिप्‍लोमा इन अर्ली चाइल्‍ड केयर एंड एजुकेशन, विभिन्‍न भाषाओं में चलाये जा रहे कार्यक्रमों, एमए संस्‍कृत, एमए संस्‍कृत, एमए ज्‍योतिष, एप्‍लाईड हिन्‍दी, एमए वैदिक, सरल संस्‍कृत बोध एवं पीएचडी इत्‍यादि कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी। उन्‍होंने भारतीय भाषाओं पर इग्‍नू द्वारा चलाये जा रहे विशेष नये कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी। अंत में उन्‍होंने मुख्‍य अतिथि एवं अन्‍य अतिथिगणों के दीक्षांत समारोह में पधारने पर उनका हृदय से आभार व्‍यक्‍त किया।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. रंजन कुमार, अतिरिक्‍त निदेशक ने किया एवं डॉ. जगदम्‍बा प्रसाद, सहायक क्षेत्रीय निदेशक तथा राकेश चन्‍द्र नौनी, अनुभाग अधिकारी ने मुख्‍य अतिथि, सम्‍मानित अतिथियों में देहरादून स्‍थित अध्‍ययन केन्‍द्र पधारने पर आभार व्‍यक्‍त किया। इस समारोह में इग्‍नू के कर्मचारी आशुतोष रावत, राखी अग्रवाल, निशांत शर्मा, अनिता मंमगाई, रविन्‍द्र सिंह, दीप प्रसाद, संतोष कुमार, सुरेश सिंह, रितु सैनी, निधि राणा, चैन सिहं, प्रदीप एवं प्रिंट एवं इलैक्‍ट्रॉनिक मीडिया से आये हुए प्रतिनिधि उपस्‍थित थे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे