Saturday, May 25, 2024
spot_img

बागेश्वर : जिलाधिकारी ने जवाहर नवोदय विद्यालय की प्रबंधन, सलाहकार समिति की ली बैठक

बागेश्वर ::- जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने जवाहर नवोदय विद्यालय सिमार की विद्यालय प्रबंधन,सलाहकार समिति की बैठक ली।
बैठक में प्राचार्य नवोदय सिमार ने विद्यालय में गत वर्षो एनसीईआरटी पाठ्य पुस्तकों (कक्षा 06से 12 तक) को जरूरतमंद विद्यार्थियों को नि:शुल्क वितरण करने का प्रस्ताव रखा, जिसे सर्व समिति द्वारा अनुमोदित किया गया।

समिति की बैठक लेते हुए जिलाधिकारी ने बच्चों की गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ ही नैतिक एवं स्किल विकास पर विशेष ध्यान देने के निर्देश प्राधानाचार्य को दिए। उन्होंने कहा नैतिक विकास के लिए बच्चों की मानसिक शक्तियों का विकास करना जरूरी है, ताकि बच्चों में देश-समाज के लिए सेवाभाव पैदा हो सके।
जिलाधिकारी ने विद्यालय में समय-समय पर हैल्थ कैम्प लगाने तथा बच्चों को हाईजीन के बारे में नियमित जानकारी देने के साथ ही बच्चों पर पैनी नजर रखने, नियमित काउंसलिंग कराने व चिकित्सा, विधिक साक्षरता शिविर लगवाने के निर्देश भी दिए। जिलाधिकारी ने बच्चों को शैक्षणिक भ्रमण के साथ ही जनपद के शासकीय कार्यालयों का टूर कराने के निर्देश दिए ताकि छात्र-छात्राएं बाहरी वातावरण एवं कार्यो से भिज्ञ हो सकें। जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान नवोदय विद्यालय के प्रयासों से आस-पास के विद्यालयों को सम्मिलित करते हुए बाल मेले, प्रदर्शनी, फूड स्टॉल लगाने का सुझाव भी दिया, ताकि बच्चों में रचनात्मक विकास हो सके।

जिलाधिकारी ने विद्यालय के जल स्रोत में फिल्ट्रेशन की उचित व्यवस्था के लिए जल संस्थान को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। विद्यालय के सूखे कूडे के निस्तारण के लिए प्रत्येक 15 दिन में नगर पंचायत गरूड़ से वाहन उपलब्ध कराने की बात करते हुए गीले कूडे को कम्पोस्ट में बदलने के उचित प्रबंधन करने के निर्देश प्रधानाचार्य को दिए। विद्यालय के नवनिर्मित खेल मैदान में छात्र-छात्राओं के सुरक्षात्मक खेल-कूद के लिए मैदान का समतलीकरण करने के निर्देश लोनिवि को दिए। बैठक के उपरांत जिलाधिकारी ने विद्यालय परिसर, कक्षा- कक्षो व मेस का जायजा भी लिया।
प्राचार्य कमल किशोर तिवारी ने विद्यालय की उपलब्धि व सामान्य जानकारी देते हुए बताया कि रजिस्टर्ड छात्र-छात्राओं की संख्या 390 है। विद्यालय में दिनभर विभिन्न क्रियाकलाप होते है। विद्यालय के कई बच्चें विभिन्न प्रतियोगिताओं में राष्ट्रीय स्तर तक प्रतिभाग कर चुके है। वहीं शिक्षा की गुणवत्ता को बनायें रखने के लिए प्रत्येक माह में अभिभावक-शिक्षक व प्राचार्य-शिक्षक बैठकें भी आयोजित की जाती है। उन्होंने बताया कि विद्यालय में विभिन्न जागरूकता शिविर, शैक्षिक भ्रमण, मानसिक स्वास्थ शिविर के साथ ही विद्यालय स्तर पर पुस्तक मेला व अन्य गतिविधियां आयोजित कर बच्चों की सहभागिता सुनिश्चित की जाती है।

बैठक में मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एनएस टोलिया, सांसद प्रतिनिधि धीरेन्द्र परिहार, प्रचार्य राजीव नवोदय विद्यालय बहुली बसंत पांडे, शिक्षाविद प्रमोद तिवारी, उप प्राचार्य दीपा जोशी, मनीष स्वामी, जीएस गुंजयाल, सहायक अभियंता लोनिवि दिशा जोशी, हेमा लोहनी, चन्दन रौतेला आदि मौजूद थे।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे