Monday, May 20, 2024
spot_img

हल्द्वानी :पशुपालन विभाग के साथ सामंजस्य स्थापित कर थाना चोरगलिया पुलिस द्वारा अब तक करवाए गए कुल 8000 से ज्यादा पशुओं के रजिस्ट्रेशन

हल्द्वानी ::- अक्सर आवारा पशुओं के सार्वजनिक स्थलों में विचरण करने के कारण कई बार राष्ट्रीय राजमार्गो सहित लिंक मार्ग में जाम की स्थिति एवं यातायात दुर्घटना की स्थिति उत्पन्न हो जाती है।

इसके अतिरिक्त आवारा पशु किसानों की खड़ी फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा रहे हैं। जिनका संज्ञान लेते हुए अशोक कुमार (आईपीएस) पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड द्वारा संपूर्ण प्रदेश स्तर पर ऑपरेशन कामधेनु चलाया गया है।

ऑपरेशन कामधेनु को सार्थक रूप से सफल बनाने के लिए जनपद स्तर पर पंकज भट्ट एसएसपी द्वारा अधिनस्थ पुलिस अधिकारी,कर्मचारी गणों को निर्देशित किया गया है। जिसके माध्यम से जनपद पुलिसकर्मियों द्वारा आवारा पशुओं को पशुपालन विभाग के माध्यम से गौ सेवा सदन एवं गौशालाओं में भेजा जा रहा है। इसके अलावा पुलिस के बीट आरक्षी प्रत्येक घर-घर जाकर पालतू मवेशियों का डाटा संकलन कर पशुपालन विभाग के माध्यम से उनका रजिस्ट्रेशन करवा रहे हैं। जिससे किसी भी पशुपालक द्वारा अपने पालतू मवेशियों को आवारा छोड़ने पर उन पर सख्ती से कार्यवाही की जा सके।

ऑपरेशन कामधेनु को सार्थक रूप से सफल बनाने के उद्देश्य से थानाध्यक्ष चोरगलिया भगवान सिंह महर के कुशल नेतृत्व में चोरगलिया थाना पुलिस द्वारा डॉ.आयुष नेगी (पशुपालन विभाग) एवं उनके कर्मचारी गणों के साथ ऑपरेशन कामधेनु के अंतर्गत संयुक्त अभियान चलाकर अब तक कुल 8000 से अधिक पशुओं का रजिस्ट्रेशन करवा चुकी हैं। और इसी क्रम में आज दिनांक 13 फरवरी 2023 को भी चोरगलिया थाना पुलिस द्वारा पशुपालन विभाग के साथ चोरगलिया के ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर कुल 10 से अधिक पशुओं का रजिस्ट्रेशन करवाया गया।
जिससे आवारा पशुओं के कारण बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं में कमी, किसानो की फसलों को आवारा पशुओं से बचाने के अतिरिक्त पालतू मवेशियों को संरक्षण एवं आवारा घूमने वाले पशुओं को गौशालाओं में सुरक्षित पहुंचाया जा सके।

पुलिस टीम में
1 थानाध्यक्ष चोरगलिया भगवान सिंह महर
2 डॉ. आयुष नेगी पशुपालन विभाग
3. उप निरीक्षक जगबीर सिंह
4. हेड कांस्टेबल मंजीत सिंह

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे