Thursday, February 2, 2023
spot_img

जज्बे को सलाम! शादी के महज 15 माह बाद गलवान घाटी में शहीद हो गए थे पति, अब पत्नी बनी सेना में लेफ्टिनेंट, पति के सपने को करेंगी पूरा

मध्य प्रदेश / रीवा– गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प में शहीद हुए लांस नायक शहीद दीपक सिंह की पत्नी रेखा सिंह भारतीय सेना में अफसर बन गई हैं। वह 28 मई से चेन्नई में अपना प्रशिक्षण शुरू करेंगी।

चीनी सैनिकों की झड़प में हुए थे शहीद
लांस नायक दीपक सिंह 15 जून 2020 को गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए थे। दीपक सिंह को उनकी बहादुरी के लिए मरणोपरांत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा ‘वीर चक्र’ से सम्मानित किया गया था।
जिसके बाद उनकी पत्नी रेखा सिंह ने पति की विरासत को आगे बढ़ाने के लिए सशस्त्र बलों में अपना करियर बनाने का फैसला किया और अपने दृढ़ संकल्प से भारतीय सेना में अफसर बनी।



सेना में लेफ्टिनेंट बनीं शहीद की पत्नी
शहीद लांस नायक दीपक सिंह की पत्नी रेखा सिंह पहले एक शिक्षिका थीं। लेकिन अपने पति के शहीद होने के बाद उन्होंने शिक्षिका की नौकरी छोड़कर सेना में अधिकारी बनने का फ़ैसला लिया और जी तोड़ मेहनत से अपने उस संकल्प को पूरा किया।

शादी के 15 महीने बाद शहीद हुए थे लांस नायक दीपक
रेखा सिंह की शादी बिहार रेजीमेंट की 16वीं बटालियन के नायक दीपक सिंह से हुई थी। लेकिन शादी के महज 15 महीने बाद ही रेखा के पति गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए और रेखा के ऊपर दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा। लेकिन उनके देशप्रेम ने उन्हें सेना में भर्ती होने के लिए प्रेरित किया और वो इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए अपने मुकाम पर पहुंची।

रेखा ने नोएडा जाकर सेना में भर्ती होने के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारियों का प्रशिक्षण लिया। वहीं रीवा में फिजिकल ट्रेनिंग ली। प्रथम प्रयास में उन्हें सफलता नहीं मिली, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और दूसरे प्रयास में भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर उनका चयन हुआ। जिसके बाद अब उनके आगे का प्रशिक्षण 28 मई से चेन्नई में शुरू होगा। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद वह एक साल में भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनकर अपनी सेवाएं देंगी।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे