Monday, May 20, 2024
spot_img

पिथौरागढ़ :: नाबालिक नेपाली बालिका की पिथौरागढ़ में कर रहे थे शादी, एएचटीयू की सतर्क दृष्टि से टली शादी

पिथौरागढ़ ::- एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट को सूचना मिली कि कालीकोट नेपाल निवासी एक व्यक्ति जो वर्तमान में मल्ली रियांसी वड्डा में अपने परिवार के साथ निवास कर रहा है, वह अपनी नाबालिक पुत्री का नेपाल निवासी एक युवक से विवाह कर रहा है । उक्त मामले को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ लोकेश्वर सिंह के आदेशानुसार चाईल्ड हैल्प लाईन कर्मियों के साथ बालिका के घर पहुँचे जहां पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ कि 28 जनवरी को वहां शादी होनी तय हुई है । टीम द्वारा लड़की के स्कूल प्रमाण पत्र व जन्म प्रमाण पत्र चैक किये गये तो उसकी उम्र 15 वर्ष होना पाया गया तथा लड़के की उम्र 23 वर्ष है । दोनों परिवार नेपाल के कालीकोट निवासी हैं । टीम द्वारा दोनों परिवारों की काउन्सलिंग की गयी तथा बाल विवाह से सम्बन्धित कानून की जानकारी देते हुए बताया कि नाबालिग की शादी कराना अपराध है । दोनों परिवारों द्वारा अपनी गलती स्वीकार करते हुए बताया कि उन्हें कानून की जानकारी नही थी । अब वह लड़की के बालिग होने पर ही उसकी शादी करेंगे जिस सम्बन्ध में दोनों परिवारों द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया । दोनों परिवारों को काउन्सलिंग के लिए cwc के समक्ष प्रस्तुत कराया गया । आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है । पुलिस टीम द्वारा दोनों परिवारों को भविष्य में इस प्रकार का कृत्य करने पर शख्त वैधानिक कार्यवाही करने के सम्बन्ध में हिदायत दी गयी ।

इस दौरान पुलिस टीम- उ.नि प्रवीण सिंह- प्रभारी एएचटीयू, कास्टेबल निर्मल किशोर, चाईल्ड हैल्प लाईन से श्री लक्ष्मण सिंह, बीना सौन, किरन जोशी ।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे