Tuesday, March 5, 2024
spot_img

हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने वाले पहले जत्था रवाना।

हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने वाले पहले जत्थे में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान के श्रद्धालु शामिल हैं।आज 250 सिख श्रद्धालुओं का पहला जत्था ऋषिकेश के लक्ष्मण झूला रोड स्थित गुरुद्वारा से गोविंदघाट के लिए रवाना हुआ। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (सेनि.) सरदार गुरमीत सिंह, सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जत्थे को शुभकामनाएं दीं और रवाना किया। इससे पहले उन्होंने श्रद्धालुओं के साथ गुरुद्वारे में अरदास की।
हेमकुंड साहिब की यात्रा 20 मई को कपाट खुलने के साथ ही शुरू हो जाएगी। ऋषिकेश गुरुद्वारे से रवाना होकर बुधवार शाम को तीर्थयात्रियों के जत्थे के साथ पंच प्यारे गोविंदघाट गुरुद्वारे में पहुंचेंगे। 18 मई को यहां से पंच प्यारे घांघरिया के लिए प्रस्थान करेंगे और 19 को हेमकुंड साहिब पहुंचेंगे। 20 मई को विधि-विधान से हेमकुंड साहिब के कपाट छह माह के लिए खोल दिए जाएंगे। हेमकुंड साहिब के समीप स्थित लोकपाल लक्ष्मण मंदिर के कपाट भी उसी दिन श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएंगे। गोविंदघाट, घांघरिया और हेमकुंड साहिब में सजावट का  काम अंतिम चरण में है। यात्रा को लेकर तीर्थयात्रियों में उत्साह का माहौल है और अभी तक लगभग 250 तीर्थयात्रियों का जत्था गोविंदघाट पहुंच गया है। इस बार मौसम की बेरुखी के कारण हेमकुंड साहिब की तीर्थयात्रा का संचालन करना गुरुद्वारा प्रबंधन और जिला प्रशासन के लिए चुनौतीपूर्ण बना हुआ है।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

ताजा खबरे